समाचार pubblico
[search 0]
Altro

Scarica l'app!

show episodes
Loading …
show series
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... 70 देशों में, लगभग 23 करोड़ लोगों की मदद के लिये, रिकॉर्ड साढ़े 51 अरब डॉलर की रक़म जुटाने की अपील. एड्स का ख़ात्मा करने के लिए, विषमताओं का उन्मूलन ज़रूरी, कहना है यूएन एजेंसियों का. मुद्रास्फीति के कारण अनेक देशों में वास्तविक मासिक आय में गिरावट, करोड़ों घर-परिवारों की क्रय क्षमता पर असर. भारत ने अपने दो वर्…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... महिलाओं व लड़कियों के विरुद्ध हिंसा को अतीत की बात बनाने की पुकार, 16 दिन का जागरूकता अभियान भी शुरू. यूक्रेन में 'रूस के ताज़ा हमलों के बाद, देश निवासियों के लिये भीषण सर्दियों का जोखिम'. ईरान में प्रदर्शनकारियों के विरुद्ध हिंसा के सम्बन्ध में एक मानवाधिकार जाँच - मिशन गठित. कश्मीरी मानवाधिकार पैरोकार ख़ुर्रम…
 
रोगाणु-रोधी प्रतिरोध (Anti-microbial Resistance/AMR) आम लोगों, पशुओं, पौधों और पर्यावरण के लिये एक ऐसा ख़तरा है, जिसकी वजह से एंटीबायोटिक और अन्य जीवनरक्षक दवाएँ अनेक प्रकार के संक्रमणों पर असर नहीं कर पाती हैं. इन दवाओं के बेअसर होने से प्रभावितों की मौत होने का ख़तरा बढ़ जाता है. इस वर्ष, 18 से 24 नवम्बर तक मनाए जाने वाले रोगाणु-रोधी प्रतिरोध सप्…
 
कॉप27 जलवायु सम्मेलन समापन के क़रीब, हानि व क्षति के मुद्दे पर ‘अधिकतम महत्वाकाँक्षा’ दर्शाए जाने का आहवान यूएन प्रमुख ने काला सागर अनाज निर्यात’ पहल के नवीनीकरण का किया स्वागत सुरक्षा परिषद में सुधार के लिए वार्ता प्रक्रिया की अगुवाई के लिए दो नए सह-प्रमुखों की नियुक्ति विश्व डायबिटीज़ दिवस: गुणवत्तापरक देखभाल और जागरूकता प्रसार पर बल और, विश्व जन…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... मिस्र के शर्म अल-शेख़ में वार्षिक जलवायु सम्मेलन कॉप27 पर दुनिया की निगाहें. कार्बन उत्सर्जन में कटौती, अनुकूलन प्रयासों समेत अहम जलवायु मुद्दों पर वार्ता जारी. विश्व भर में ढ़ाई करोड़ से अधिक बच्चों पर मंडरा रहा है बाढ़ का जोखिम. अफ़ग़ानिस्तान में आर्थिक बदहाली के बीच, बढ़ रहे हैं अपराध और आतंकवाद. अति-आवश्यक …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... मिस्र में यूएन का वार्षिक जलवायु सम्मेलन कॉप27 6 नवम्बर से आरम्भ कार्बन उत्सर्जन में कटौती, अनकूलन प्रयासों में निवेश और विकासशील देशों के लिये समर्थन की पुकार पत्रकारों के लिये बढ़ रहे जोखिमों से हम सभी का नुक़सान, यूएन प्रमुख ने जताई चिन्ता काला सागर अनाज निर्यात पहल, और इथियोपिया में शान्ति समझौता, 'बहुपक्षव…
 
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की दो-दिवसीय विशेषबैठक 28 व 29 अक्टूबर को भारत में आयोजित हुई है. इस बैठक में आतंकी गुटों द्वारा नई व उभरती टैक्नॉलॉजी के प्रयोग से पनप रहे ख़तरों के अनेक पहलुओं पर चर्चा हुई. इस बैठक में हुई चर्चा में, सदस्य देशों के प्रतिनिधियों, यूएन अधिकारियों, नागरिक समाज संस्थाओं, निजी सैक्टर और शोधकर्ताओं…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की विशेष बैठक भारत में, 2008 में मुम्बई में हुए आतंकवादी हमले के पीड़ितों को श्रद्धांजलि भी. विभिन्न यूएन एजेंसियों की चिन्ता – तापमान वृद्धि को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित रखने के प्रयास नहीं हैं काफ़ी. ईरान में हिजाब विवाद में बढ़ते प्रदर्शनों के दौरान सरकारी दमन पर गहरी…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूएन महासचिव की भारत यात्रा; बहुपक्षवाद, टिकाऊ विकास और यूएन शान्तिरक्षा अभियानों में भारत का अहम योगदान रेखांकित. शान्ति निर्माण प्रक्रियाओं में, महत्वपूर्ण है महिलाओं की भागीदारी, मगर उनकी भूमिका बढ़ाने की रफ़्तार धीमी. फ़लस्तीनी क्षेत्र पर इसराइली क़ब्ज़ा अवैध, यूएन जाँच आयोग की नई रिपोर्ट. शारीरिक शिथिलता क…
 
यूक्रेनी क्षेत्रों को अपनी सीमाओं में मिलाने की रूस द्वारा कोशिश की निन्दा, यूएन महासभा में भारी बहुमत से प्रस्ताव पारित मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं के लिये समर्थन व निवेश सुनिश्चित किये जाने की पुकार जलवायु परिवर्तन है ऊर्जा सुरक्षा के लिये जोखिम, नवीकरणीय ऊर्जा की दिशा में बढ़ना है ज़रूरी यूएन आतंकवाद निरोधक समिति की आगामी बैठक होगी भारत में, सुनियेग…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... पाकिस्तान में बाढ़ से हुई तबाही कल्पना से परे, यूएन महासचिव ने समर्थन के लिये लगाई पुकार. अफ़ग़ानिस्तान में दस साल का आर्थिक विकास, उलटा केवल 12 महीनों में. टिकाऊ विकास पर केन्द्रित भारत-यूएन विकास साझेदारी कोष को हुए पाँच साल पूरे. जलवायु परिवर्तन, महिलाओं व लड़कियों के विरुद्ध हिंसा का जोखिम बढ़ने की एक वजह. …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में रूस द्वारा क़ाबिज़ इलाक़ों को अपनी सीमाओं में मिलाने की योजना, यूएन महासचिव ने की निन्दा. अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में शिक्षण केन्द्र पर हमले में अनेक लोग हताहत, यूनीसेफ़ ने कहा शिक्षा केन्द्रों पर हमले अस्वीकार्य. कार्यस्थल पर मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से निपटना अहम, यूएन एजेंसियों का आग्रह. …
 
संयुक्त राष्ट्र महासभा के 77वें वार्षिक सत्र के अवसर पर दुनिया भर से सभी क्षेत्रों की अग्रणी हस्तियाँ न्यूयॉर्क में एकत्र हुईं. इस दौरान, भारत में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय ने रिलायंस फ़ाउण्डेशन व ऑब्ज़र्वर रिसर्च फ़ाउण्डेशन के साथ मिलकर, 23 सितम्बर को, 'महिला, प्रौद्योगिकी और एसडीजी: परिवर्तन के रास्ते को फिर से आकार देना' विषय पर, न्यूयॉर्क में एक…
 
1) यूएन महासभा के 77वें सत्र में उच्चस्तरीय जनरल डिबेट, दरारों व चुनौतियों पर पार पाने के लिये वैश्विक गठबंधन का आहवान.2) यूक्रेन में युद्ध' पर विराम लगाने के लिये, दोगुने प्रयासों की पुकार....स्वतंत्र मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट, युद्धापराधों को दिया गया अंजाम.3) ईरान में हिजाब विवाद में महसा अमीनी की मौत पर गम्भीर चिन्ता, निष्पक्ष व त्वरित जाँच की…
 
यूएन महासभा का 77वाँ सत्र हुआ आरम्भ.....एकजुटता, सततता, विज्ञान के ज़रिये वैश्विक चुनौतियों के समाधान की पुकार पढ़ाई-लिखाई के गहराते संकट पर चिन्ता, शिक्षा में रूपान्तरकारी बदलाव के लिये एक अहम बैठक नज़र आ रहा है कोविड-19 महामारी का अन्त, मगर सतर्कता ज़रूरी, WHO ने किया आगाह जलवायु संकट से निपटने के लिये पर्याप्त नहीं है मौजूदा प्रयास, यूएन की नई र…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... पाकिस्तान में बाढ़ पीड़ितों के लिये यूएन प्रमुख की, विशाल वैश्विक समर्थन की पुकार 90% देशों में पिछड़ रहा है मानव विकास: यूएन रिपोर्ट महारानी ऐलिज़ाबेथ द्वितीय का निधन, ‘व्यापक बदलावों’ के दशकों में उनकी ‘आश्वस्तकारी मौजूदगी’ निवेश नहीं हुआ तो, लैंगिक समानता प्राप्ति में लग सकते हैं 300 साल वोल्कर टूर्क बने - न…
 
1) चीन शिंजियांग में, 'गम्भीर मानवाधिकार उल्लंघन' के लिये ज़िम्मेदार: यूएन मानवाधिकार रिपोर्ट2) पाकिस्तान में भीषण बाढ़ से प्रभावित इलाक़ों में संक्रामक बीमारियाँ फैलने का ख़तरा3) उत्तरी गोलार्ध में सर्दियाँ शुरू होने पर, कोविड-19 के मामलों में बढ़ोत्तरी की सम्भावना4) बुर्कीना फ़ासो की शान्तिरक्षक, वर्ष की सर्वश्रेष्ठ यूएन पुलिस अधिकारी5) समावेश को…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... 1) यूक्रेन में 'विवेकहीन युद्ध' के छह महीने, यूएन महासचिव, गुटेरेश ने दोहराई शान्ति अपील 2) रोहिंज्या लोगों के विशाल विस्थापन को रोकने के लिये, वृहद समाधान की दरकार3) 2022 में कोविड-19 से 10 लाख मौतों का 'त्रासद पड़ाव'4) श्रीलंका में बच्चों के लिये विनाशकारी संकट, दक्षिण एशिया के लिये एक चेतावनी5) संयुक्त राष्ट…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... 1. यूक्रेन: धनी देशों से, विकासशील देशों की मदद के लिये अपने ‘बटुए’ और ‘दिल’ खोलने की पुकार ----2. अफ़ग़ानिस्तान की महिलाओं व लड़कियों के लिये यूएन एजेंसियों की प्रतिबद्धता.3. विश्व मानवीय दिवस पर 'मानवता के सर्वश्रेष्ठ उदाहरणों' को अभिवादन4. यूएन मानवधिकार प्रमुख का कॉक्सेस बाज़ार दौरा, सुनीं रोहिंज्या शरणार्थ…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... अन्तरराष्ट्रीय युवा दिवस पर यूएन महासचिव का सन्देश, उपयुक्त विश्व के निर्माण के लिये, युवा और वृद्ध, सभी आयु के लोगों के सहयोग की आवश्यकता. विश्व मौसम विज्ञान संगठन, WMO ने कहा, गर्मी, सूखा और जंगली आगों के साथ, जुलाई अभी तक की सबसे गर्म जुलाई. इसराइल व 'फ़लस्तीनी इस्लामिक जिहाद' के बीच ताज़ा संघर्ष विराम से 'ब…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... हमारा साझा एजेण्डा - OCA है - वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिये ब्लूप्रिण्ट, कहना है यूएन प्रमुख का. वैश्विक महंगाई के बीच ऊर्जा कम्पनियों द्वारा भारी मुनाफ़ा कमाने को बताया गया अनैतिक. दुनिया भर में जुलाई महीने में खाद्य वस्तुओं की क़ीमतों में कुछ गिरावट से राहत के संकेत. दुनिया, बढ़ते तनावों के बीच, परम…
 
भारत में एक जुलाई से, एकल प्रयोग प्लास्टिक पर प्रतिबन्ध लागू किया गया है, जिसके तहत प्लास्टिक कचरा फैलाने वाली 19 वस्तुओं का इस्तेमाल तुरन्त बन्द करने का प्रावधान है. एकल प्रयोग प्लास्टिक पर लगी रोक की प्रासंगिकता के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिये, यूएन न्यूज़ की अंशु शर्मा ने भारत में, यूएन पर्यावरण कार्यक्रम - UNEP की कार्यक्रम प्रबन्धक दिव्या …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... स्वच्छ और स्वस्थ पर्यावरण हुआ - एक सार्वभौमिक मानवाधिकार घोषित. यूक्रेन से अनाज निर्यात समझौते पर अमल करने के लिये, इस्तान्बूल में एक संयुक्त केन्द्र गठित. मंकीपॉक्स के 78 देशों में, 18 हज़ार से ज़्यादा मामले, सतर्कता बरते जाने की पुकार. हेपेटाइटिस के एक अति गम्भीर रूप के फैलाव ज़ोरों पर, जिससे बच्चे हैं ज़्याद…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... काला सागर से होकर यूक्रेन व रूस के अनाज निर्यात पर इस्तान्बूल में हुआ अहम समझौता. विश्व भर में Refugees और Migrants के स्वास्थ्य पर ख़ास ध्यान देने की पुकार. श्रीलंका को संकट की इस घड़ी में, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय के समर्थन की हिमायत. अफ़ग़ानिस्तान में तालेबान शासन के दौरान मानवाधिकारों के ह्रास पर गम्भीर चिन्ता…
 
संयुक्त राष्ट्र में टिकाऊ विकास लक्ष्यों और 2030 एजेण्डा पर एक उच्चस्तरीय राजनैतिक फ़ोरम के दौरान, यूएन में भारत के स्थाई मिशन ने हाल ही में एक कार्यक्रम का आयोजन किया. इसका उद्देश्य 2030 एजेण्डा को लागू करने में भारत के अनुभवों को साझा करने के साथ-साथ, यह दर्शाना था कि टिकाऊ विकास लक्ष्यों को हासिल करने में, ग्लोबल साउथ क्षेत्र में स्थित विकासशील …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... श्रीलंका में तेज़ी से बदलते राजनैतिक घटनाक्रम पर, यूएन प्रमुख की चिन्ता और सम्वाद पर बल. अनाज निर्यात बहाली पर रूस और यूक्रेन के दरम्यान, तुर्की में अहम बातचीत, जल्द ही और भी प्रगति होने की उम्मीद. स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने वाली महिलाएँ, अपने पुरुष समकक्षों की तुलना में पाती हैं - लगभग 25 प्रतिशत कम आय. तु…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... हिंसक टकरावों, वैश्विक महामारी और जलवायु संकट के कारण टिकाऊ विकास लक्ष्यों के लिये जोखिम श्रीलंका में बढ़ती महंगाई और गहराते आर्थिक संकट के कारण, लाखों लोगों के समक्ष खाद्य असुरक्षा का संकट यूएन महासचिव ने कहा, शान्तिपूर्ण व समृद्ध विश्व के लिये, मज़बूत बहुपक्षवाद ही है एकमात्र रास्ता विकासशील देशों में एक-तिहा…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... महासागरों की रक्षा के लिये महत्वाकाँक्षी कार्रवाई और वैश्विक संकल्पों की पुकार के साथ, लिस्बन महासागर सम्मेलन का समापन यूक्रेन पर रूसी आक्रमण के चार महीने बाद भी, संकटपूर्ण हालात में तेज़ी से बढ़ रही मानवीय राहत ज़रूरतें अफ़ग़ानिस्तान में महिला अधिकारों की स्थिति पर गहरी चिन्ता, हालात ना बदले तो भविष्य और अंधका…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... लिस्बन महासागर सम्मेलन पर यूएन प्रमुख का सन्देश - महासागर से – पृथ्वी को मिलती है ऑक्सीजन और है भोजन व आजीविका का विशाल स्रोत भी. अफ़ग़ानिस्तान स्थिति पर सुरक्षा परिषद में चर्चा, भूकम्प में हताहतों के लिये रखा गया मौन, तालेबान के साथ बातचीत जारी रखने की भी हिमायत. वैश्विक भुखमरी संकट - हर एक मिनट - एक बच्चे को …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... हिंसक टकराव, खाद्य असुरक्षा, जलवायु परिवर्तन समेत अन्य वैश्विक संकटों का असर, दस करोड़ लोग अपना घर छोड़कर जाने के लिये मजबूर विकास के लिये सीमित संसाधनों का असीमित इस्तेमाल है चिन्ता की बड़ी वजह, जीवाश्म ईंधन के बजाय नवीकरणीय ऊर्जा पर बल एक पीढ़ी में अपने सबसे कठिन पलों से गुज़र रहा है अफ़ग़ानिस्तान, यूएन मानवा…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन युद्ध के कारण दुनिया भर में बढ़ती खाद्य व ऊर्जा क़ीमतों ने दहलाई ज़िन्दगियाँ, विकासशील देश सर्वाधिक प्रभावित. श्रीलंका में 17 लाख लोगों की जीवनरक्षक मदद के लिये, चार करोड़ 72 लाख डॉलर की रक़म जुटाने की अपील. पृथ्वी ग्रह की मांगें पूरी करने में सक्षम - एक स्वस्थ व उत्पादक महासागर सुनिश्चित करना है, एक सा…
 
भारत में खाद्य एवं कृषि संस्थान (FAO) कार्यालय, भारत सरकार के साथ मिलकर, टिकाऊ कृषि की परियोजनाओं पर काम कर रहा है. इस क्रम में, Green-AG नामक एक परियोजना, भारत के मध्य प्रदेश, मिज़ोरम, ओडिशा, राजस्थान व उत्तराखण्ड राज्यों में शुरु की गई है, जिसके केन्द्र में हैं - जैव-विविधता, जलवायु कार्रवाई, भूमि क्षरण और टिकाऊ वन प्रबन्धन.यूएन न्यूज़ हिन्दी की …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में जारी युद्ध को 100 दिन पूरे हुए, विशाल पैमाने पर मानवीय राहत ज़रूरतें, खाद्य सुरक्षा व कृषि के लिये उर्वरक की आपूर्ति पर संकट, यूएन ने समाधान की दिशा में प्रयास किये तेज़ स्टॉकहोम+50 सम्मेलन में पर्यावरण पर मंडराते संकटों से रक्षा के लिये कार्रवाई का आहवान कोविड-19 महामारी ने, सर्वजन के लिये बिजली सु…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... दुनिया भर में शान्ति स्थापना में योगदान करने वाले शान्तिरक्षकों को श्रद्धांजलि, 29 मई को मनाया जा रहा है शान्तिरक्षक दिवस. एक यूएन शान्तिरक्षा मिशन में तैनात भारतीय बटालियन के कमाण्डर कर्नल विमल शर्मा के साथ ख़ास बातचीत. सम्पन्न देशों में संसाधनों की अत्यधिक खपत का असर विकासशील और निर्धन देशों पर, बड़ी संख्या म…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... ग्रीनहाउस गैसों की सघनता, समुद्री जल स्तर में वृद्धि, महासागरों का बढ़ता तापमान और अम्लीकरण, तेज़ी से बदल रही जलवायु ने बढ़ाई चिन्ता खाद्य असुरक्षा, समाजों में अस्थिरता व हिंसक संघर्षों के भड़कने की वजह, सहेल क्षेत्र में डेढ़ करोड़ से अधिक लोगों पर भूख का गम्भीर संकट वैश्विक अर्थव्यवस्था की गति धीमी होने की सम्…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में युद्ध में आम लोगों के विरुद्ध अत्याचारों की ख़बरें, मदद के प्रयास जारी, सुरक्षित निकासी से बंधी कुछ उम्मीद भी. श्रीलंका में महंगाई और भ्रष्टाचार के विरुद्ध प्रदर्शनों का दायरा हुआ व्यापक और हिंसक भी, सुनियेगा एक इण्टरव्यू. तापमान वृद्धि पर आगाह करने वाली, WMO एक ताज़ा रिपोर्ट. एक प्रख्यात फ़लस्तीनी …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में आमजन की रक्षा और विशाल मानवीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिये राहत प्रयासों में तेज़ी बन्दरगाह शहर मारियुपोल में फँसे लोगों की सुरक्षित निकासी के बीच, मौत, विध्वंस और विस्थापन के चक्र का अन्त किये जाने की पुकार दो सालों में कोविड-19 के कारण विश्व भर में क़रीब डेढ़ करोड़ लोगों की मौत, विश्व स्वास्थ्य…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में संकट के बीच, यूएन महासचिव ने रूस और यूक्रेन का दौरा किया, 21वीं सदी में युद्ध को बेतुका, एक बुराई बताया मानवीय राहत ज़रूरतों को पूरा करने और शान्ति स्थापना के प्रयासों पर ज़ोर मानव गतिविधियाँ और बर्ताव की वजह से, वैश्विक आपदाओं की संख्या में बढ़ोत्तरी कोविड-19 महामारी के व्यवधान के बावजूद, मलेरिया म…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में संकट और शान्ति प्रयासों व अपीलों के बीच, यूएन महासचिव का रूसी महासंघ की यात्रा पर जाने का कार्यक्रम ऑर्थोडॉक्स ईसाइयों के पवित्र सप्ताह के अवसर पर युद्ध में चार-दिवसीय विराम की पुकार यूएन मानवाधिकार उच्चायुक्त ने कहा, यूक्रेन में नागरिकों पर किये गए भयावह अत्याचार कई बम धमाकों से दहला अफ़ग़ानिस्तान,…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ. यूक्रेन संकट का असर दुनिया भर के लोगों पर भी, युद्ध तुरन्त रोके जाने की पुकार, इस बीच बहुत से यूक्रेनी लोग, वापिस लौट रहे हैं स्वदेश. यौन हिंसा का एक हथियार के रूप में प्रयोग रोकने और महिलाओं के अधिकारों की रक्षा सुनिश्चित रोकने की पुकार. WHO की चेतावनी - कोविड के मामलों में कमी के बावजूद, महामारी का जोखिम अब भी …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ.. यूक्रेन संकट पर यूएन महासभा के आपात विशेष सत्र में प्रस्ताव पारित, मानवाधिकार परिषद से रूसी महासंघ की सदस्यता निलम्बित यूक्रेन के बूचा और अन्य इलाक़ों में कथित रूसी हमलों में बड़ी संख्या में आम नागरिकों के मारे जाने की कठोर निन्दा वैश्विक तापमान में वृद्धि को सीमित करने के लिये 'अभी या कभी नहीं' कार्रवाई का समय,…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... मानवीय सहायता एजेंसियाँ, यूक्रेन में युद्ध में फँसे लोगों की मदद करने और उन्हें बाहर निकालने में सक्रिय. अफ़ग़ान संकट पर यूएन प्रमुख की चेतावनी, अभी ठोस कार्रवाई के अभाव में, पैदा हो सकता है भुखमरी और कुपोषण का नया संकट. WHO के मुखिया की चेतावनी, दुनिया की एक तिहाई आबादी, अब भी कोविड-19 वैक्सीन के पहले टीके से …
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में एक महीने से जारी युद्ध से गहराता मानवीय संकट, एक करोड़ से अधिक लोग घर छोड़ने के लिये मजबूर यूएन महासचिव ने कहा, इस बेतुके युद्ध का अन्त करने और शान्ति को अवसर देने का समय अफ़ग़ानिस्तान में हाई स्कूल छात्राओं की कक्षाओं में वापसी पर पाबन्दी को फिर बढ़ाया गया टीबी की बीमारी के कारण हर दिन होती हैं चार…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में हमलों में बड़ी संख्या में आम लोग हताहत और विस्थापित, नागरिक प्रतिष्ठानों की बर्बादी स्वास्थ्य सेवाएँ बुरी तरह प्रभावित, बुनियादी वस्तुओं की भारी क़िल्लत गम्भीर संकट से गुज़र रहे अफ़ग़ानिस्तान में दो करोड़ से अधिक लोगों के लिये सहायता जारी रखने की अपील संयुक्त राष्ट्र के अफ़ग़ानिस्तान में मिशन की अवध…
 
संयुक्त राष्ट्र समर्थित ड्रग नियंत्रण संस्था ने चेतावनी जारी की है कि सोशल मीडिया पर युवाओं को भांग, हेरोइन और अन्य नियंत्रित पदार्थों के सेवन के लिये उकसाया जा रहा है. इण्टरनेशनल नारकोटिक्स कंट्रोल बोर्ड (आईएनसीबी) ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में सोशल मीडिया के प्रयोग और नशीली दवाओं के इस्तेमाल के बीच सम्बन्ध के बढ़ते सबूतों को रेखांकित किया है. साथ ह…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... यूक्रेन में युद्ध तीसरे सप्ताह में दाख़िल, संकट पर सुरक्षा परिषद की एक और बैठक. कोविड-19 को महामारी के रूप में हुए दो वर्ष पूरे, इसके नए वैरिएण्ट्स व वैक्सीन समता अब भी हैं चुनौती. सीरिया में युद्ध शुरू हुए 11 वर्ष, नहीं नज़र आ रहा संघर्ष का कोई अन्त. और, अवैध ड्रग्स व सोशल मीडिया मंचों के प्रयोग के बीच है कोई …
 
भारत के कोलकाता शहर की महिला उद्यमी सुजाता चैटर्जी का मानना है कि कपड़ों की बर्बादी एक बड़ा पर्यावरणीय मुद्दा है. सुजाता अपने उद्यम के ज़रिये, घरों में बेकार पड़े कपड़ों को एकत्र करके, उसका एक हिस्सा गाँव में ग़रीब लोगों को देती हैं, और बाकी कपड़ों को री-सायकिल करके नए उत्पाद बनाती हैं. सुजाता का उद्यम पूरी तरह महिलाओं द्वारा संचालित है और परिधान उ…
 
जलवायु परिवर्तन के प्रभावों से निपटने के लिये सहनक्षमता निर्माण को बेहद महत्वपूर्ण माना गया है. भारत में 'महिला हाउसिंग सेवा ट्रस्ट' नामक एक ग़ैर-सरकारी संगठन, दक्षिण एशियाई देशों के शहरी इलाक़ों में रहने वाले निम्न आय वाले परिवारों में, महिलाओं को संगठित करने व उनके सशक्तिकरण के लिये प्रयासरत है. इसके तहत, ताप लहरों, जल की क़िल्लत, जल भराव या जल ज…
 
इस साप्ताहिक बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ... ​यूक्रेन में रूसी आक्रामकता की निन्दा के लिये यूएन महासभा में प्रस्ताव भारी मतों से पारित यूक्रेन के अनेक शहरों में लड़ाई जारी, योरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र के हिंसा की चपेट में आने से गहराई चिन्ता यूक्रेन में दस लाख से अधिक लोगों ने छोड़ा देश, मानवाधिकार हनन के मामलों की जाँच के लिये, आयोग गठित करने…
 
​जलवायु परिवर्तन पर अन्तरसरकारी आयोग (IPCC) ने, अपनी एक नई रिपोर्ट में दुनिया पर जलवायु परिवर्तन के प्रभाव के बारे में एक कड़ी चेतावनी जारी की है. विशेषज्ञों का कहना है कि पारिस्थितिकी विघटन, प्रजातियों के विलुप्तिकरण, जानलेवा गर्मियाँ और बाढ़ें, ये ऐसे जलवायु ख़तरे हैं जिनका सामना विश्व को, वैश्विक तापमान वृद्धि के कारण, अगले दशकों में करना पड़ सक…
 
Loading …

Guida rapida

Google login Twitter login Classic login